महज 39 गेंदों में स्कॉटलैंड को पीटकर टीम इंडिया की उम्मीदें कायम, समझिए अब कैसे मिल सकता है सेमीफाइनल का टिकट

Share this post

टी-20 विश्व कप में पाकिस्तान और न्यूजीलैंड के हाथों मिली लगातार करारी हार का हिसाब टीम इंडिया ने अगले दो मुकाबलों में चुकता कर लिया है। अफगानिस्तान को एकतरफा अंदाज में हराने के बाद विराट कोहली के जांबाजों ने स्कॉटलैंड को बुरी तरह से पीटा।
केएल राहुल और रोहित शर्मा की तूफानी बल्लेबाजी के बूते भारतीय टीम ने स्कॉटलैंड से मिले 86 रनों के लक्ष्य को महज 39 गेंदों में ही चेज कर डाला। लगातार दूसरी धमाकेदार जीत से टीम इंडिया की सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीदें बरकरार हैं और नेट रनरेट के मामले में अब टीम ग्रुप-2 में टॉप पर पहुंच गई है। आइए आपको बताते हैं कि भारत को अंतिम चार में अपनी सीट पक्की करने के लिए अब क्या करना होगा।

इन 53 देशों में आएगी कोरोना की नई लहर! पांच लाख लोगों की हो सकती हैं मौतें, कई देशों में तेजी से बढ़ रहा संक्रमण

कोहली एंड कंपनी ने भले ही अफगानिस्तान और स्कॉटलैंड पर बड़ी जीत दर्ज कर करोड़ों भारतीय फैन्स की उम्मीदों को जगा दिया हो, लेकिन सेमीफाइनल का टिकट हासिल करने के लिए टीम इंडिया को किस्मत का साथ चाहिए होगा। भारत अंतिम चार में अपनी जगह फिक्स कर पाएगा या नहीं इसका दारोमदार अफगानिस्तान टीम के ऊपर होगा।

केदारनाथ से PM नरेंद्र मोदी ने किया अयोध्या, मथुरा, काशी का जिक्र, कहा- वापस मिल रहा गौरव

7 नवंबर को खेले जाने वाले न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच में अगर मोहम्मद नबी की अगुवाई में अफगानिस्तान केन विलियमसन की टीम को हराने में सफल रहता है तभी टीम इंडिया का सेमीफाइनल में खेलने का सपना साकार होगा। हालांकि, भारत के लिहाज से यह भी जरूरी है कि अफगानिस्तान कीवी टीम पर ज्यादा बड़े अंतर से जीत दर्ज ना करे।

खूनी संघर्ष में महिला सरपंच की हत्या, पति और पुत्र को किया अधमरा, वारदात से गांव में सनसनी

 

स्कॉटलैंड के खिलाफ जीत के बाद टीम इंडिया का नेट रनरेट अब +1.619 हो गया है और टीम ग्रुप-2 के प्वॉइंट्स टेबल में तीसरे नंबर पर पहुंच गई है। 7 नवंबर को अफगानिस्तान अगर न्यूजीलैंड को अपसेट करने में सफल रहता है तो हार से कीवी टीम का नेट रनरेट भी गिरेगा।

हर माह 1 हजार रुपए की करें बचत, 34 लाख रुपए से ज्यादा का हो जाएगा इंतजाम

इस कंडिशन में मोहम्मद नबी की टीम न्यूजीलैंड से आगे निकल जाएगी और दोनों ही टीमों को कुल प्वॉइंट छह-छह हो जाएंगे। इसके बाद अफगानिस्तान और न्यूजीलैंड से आगे निकलने के लिए 8 नवंबर को भारत को नामीबिया पर बड़े अंतर से जीत हासिल करनी होगी। कोहली की टोली ने अगर यह काम कर दिखाया तो उनके भी छह प्वॉइंट हो जाएंगे पर बड़ी जीत के बूते वह सेमीफाइनल का अपना टिकट कटा लेंगे।

Related Posts